टोल पार करने के लिए लोग बड़ी गाडिय़ों पर छोटी गाड़ी का फास्टैग लगाकर निकल रहे हैं

जिससे सरकार को लाखों रुपए का नुकसान झेलना पड़ रहा है

नेशनल हाईवे अथारिटी ऑफ इंडिया (एनएचआई) के अधिकारियों की जांच में पता चला

कि टोल पार करने वाली गाड़ी दूसरी है और फास्टैग किसी और का लगा हुआ है

ऐसे में लगभग 300 रुपए से 500 रुपए की टैक्स चोरी हो जाती है।

जिससे सरकार को लाखों रुपए के राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है

केंद्र सरकार ने 15 फरवरी 2021 से पूरे देश में टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य कर दिया है