घर बैठे रोजगार करने के तरीके | Ghar Baithe Paise Kaise Kamaye?

दोस्तो आज के समय मे Ghar Baithe Rojgaar Ke Tarike खोजने हर कोई इंटरनेट की तरफ भागता है। सबकी कोशिश रहती है कि कुछ ऐसा जुगाड़ हो जाये जिससे Ghar Baithe Paise Kamane Ka Tarika मिल जाये। तो आज saralhistory.com पर आपको इस पोस्ट के माध्यम से हम ऐसे ही कुछ बेहतरीन Business Ideas आपको देने वाले है जिनसे आप घर रहकर अपना Business कर सकते है।

दोस्तो कुछ small business है जिनके बारे में हम आपको यहां बतायेंगे ओर इसको आप धीरे धीरे अपने बड़े बिज़नेस में भी तब्दील कर सकते है जिससे आप दूसरों को नौकरी भी दे सकते है। लेकिन वो बाद कि बात है पहले चलो जानते है कि ऐसे कौन कौन से बिज़नेस आईडिया है जो आप अपने घर से ही शुरू कर सकते है यानी Ghar Baithe Money कमा सकते हैं।

घर बैठे रोजगार करने के बेहतरीन तरीके – Ghar Baithe Paise Kamane Ke Tarike

दोस्तो घर बैठे पैसे (Ghar Baithe Paise Kamane Ke Tarike) का कमाने की बात करें तो इस पोस्ट में हम आपको बिल्कुल आसान और सस्ते तरीके बनाएंगे जिनसे आप ज्यादा मुनाफा कमा सको। ओर ज्यादा पैसा कमाना है तो हमेशा उसी area में हाथ डालना सही रहता है जिस क्षेत्र में कमी हो फिर वो चाहे compitition की हो या फिर product की। क्योंकि ऐसा होगा तभी आपका प्रोडक्ट ज्यादा बिकेगा ओर आपकी Income भी ज्यादा होगी। साथ मे धीरे धीरे आप अपने small business को बड़े में भी बदल सकते है।

घर बैठकर पैसे online ओर offline दोनों तरीकों से कमाया जा सकता है। Online Paisa Kamane Ke Tarike बहुत सारे है लेकिन यहां इस पोस्ट में हम offline घर बैठे पैसे कमाने के तरीके पर बात कर रहे है तो नीचे कुछ बेहतरीन तरीके दिये गये है जिससे अपना Ghar Baithe Paise Kaise Kamaye वाला सपना पूरा कर सकते है।

मोमबत्ती बनाने का बिज़नेस कैसे करें – How to Start Candles Business in Hindi

वैसे तो आजकल शहरों में मोमबत्तियां काम बिकती है लेकिन गांव देहात में आज भी मोमबत्तियां बहुत ज्यादा खरीदी जाती है। आज भी गांव में बिजली कटने की समस्या बहुत ज्यादा है। पहले मिट्टी के तेल का इस्तेमाल गांव देहात में किया जाता था लेकिन अब उसकी जगह मोमबत्तियों ने ले ली है। इसके अलावा दीवाली जैसे त्योहार पर मोमबत्ती की खपत इतनी अधिक होती है कि उसके लिये आपको कई महीने पहले से मोमबत्ती बनाने की तैयारी करनी पड़ सकती है। मोमबत्ती बनाने का बिज़नेस बहुत आसान और सस्ता है। इसमें शुरुआती लागत भी अधिक नही होती। इसके जरिये आप Ghar Baithe Paise पैसे कैसे कमाएंगे इसकी जानकारी हम आपको देने जा रहे है। 

मोमबत्ती का बिज़नेस शुरू करने के लिये आपको मशीन खरीदनी होगी जिसकी कीमत आपको लगभग 160000 हजार में मिलेगी। इसमें कीमत थोड़ी बहुत ऊपर नीचे हो सकती है। इसके साथ मोमबत्ती बनाने के लिये आपको कच्चा माल यानी मोम भी आसानी से मार्केट में उपलब्ध हो जायेगा। भारत सरकार छोटे उद्योग शुरू करने के लिये लोन भी देती है। आप आसानी से इसके लिये लोन भी ले सकते है।

मोमबत्ती का बिज़नेस शुरू करने के लिये आपको ज्यादा लोगों की जरूरत नही है। 3-4 लोग चाहिये जो पैकिंग आदि का काम कर सके। अगर आपके घर के सदस्य है ये करने के लिए तो आपका ये काम भी आसान हो जायेगा। एक जरूरी बात की आपको शुरू में आपके घर के आसपास की दुकानों और आसपास की मार्किट में मोमबत्ती सप्लाई करनी है। इससे आपकी आमदनी भी शुरु होगी और आपका बिज़नेस भी लोगों की नजर में आयेगा। नजदीक एरिया को पूरी तरह से कवर करने के बाद आप दूर के क्षेत्रों में भी सप्लाई शुरू कर सकते है।

केक बनाने का बिज़नेस कैसे करें – How to start Cake Business in Hindi

दोस्तो ये तो आप सब जानते ही है कि हर दिन किसी ना किसी का जन्मदिन होता है। और सबको अपना जन्मदिन मनाने के लिये केक की जरूरत होती है। यही वजह है कि केक का बिज़नेस सालों साल चलने वाला बिज़नेस है। आप केक बनाने का बिज़नेस करके हजारों रूपये रोजाना कमा सकते है। धीरे धीरे अपने बिज़नेस को बड़ा करके आप अपने टर्नओवर को लाखों करोड़ों में ले जा सकते है। केक के बिज़नेस की सबसे खास बात यह है कि इसमें लागत ज्यादा नही है। और रोजाना इसकी डिमांड रहती है। इसके जरिये आप Ghar Baithe Paise पैसे कैसे कमाएंगे इसकी जानकारी हम आपको देने जा रहे है। 

आपके घर पर अगर ओवन है तो आप केक घर पर ही बना सकते है। लेकिन इससे आप अपने आसपास के क्षेत्र में केवल आर्डर पहले से लेकर ही सप्लाई दे पाएंगे। केक का बिज़नेस के लिये आपको अपनी छोटे लेवल की बेकरी खोलनी होगी। अब बेकरी खोलने के नाम से घबराना नही है। बहुत आसान है छोटी बेकरी खोलना।

खुद की केक बनाने की बेकरी को खोलने के लिए आपको कम से कम ₹100000 से लेकर ₹250000 तक की लागत लग सकती है। लेकिन अगर एक बार आप केक बनाने की बेकरी को खोल लेते हैं तो इसके फायदे भी बहुत है। आप ज्यादा आर्डर वे सकते हो। नये नये डिज़ाइन में केक तैयार कर सकते हो। क्योंकि आजकल डिज़ाइन आप केक का क्रेज ज्यादा है। ओर डिज़ाइन वाले केक में लागत कम और मुनाफा ज्यादा होता है। जिससे आपकी आमदनी महीने में लाखों की हो सकती है। अपनी बेकरी का फायदा ये भी है कि इसमें आप दूसरे कुछ अन्य प्रोडक्ट का उत्पादन केक के साथ साथ कर सकते हो जिससे आपकी आमदनी बढ़ जायेगी।

पापड़ बनाने का बिज़नेस कैसे करें – How to start Chips business in Hindi

अगर आप Ghar Baithe Business करने की सोच रहे हैं और आपका बजट भी ज्यादा नही है तो आप टेंशन बिल्कुल भी ना लें क्योंकि Papad ka business आपकी ये टेंशन दूर कर देगा। Papad ka business करने के लिये ज्यादा तामझाम की जरूरत भी नही है। papad की खपत भी ज्यादा रहने के कारण ये एक सदाबहार business है। दोस्तो Papad ka istemal शादी हो या फिर कोई पार्टी, सब जगह किया जाता है। इसके अलावा भी ढाबों पर, होटलों पर ओर रेस्टोरेंट में Papad खूब बिकते है। इस काम से आप Ghar Baithe Paise पैसे कमा सकते है

आज अगर आप मार्किट में जायेंगे तो आपको अनेक प्रकार के फ्लेवर में पापड़ देखने को मिल जायेंगे। साथ ही प्लेन पापड़, मसाला पापड़, फ्राई पापड़ आदि की डिमांड भी बहुत ज्यादा रहती है। पापड़ का बिज़नेस बहुत ही काम लागत से शुरू हो जाता है। इसको आप अपने घर से भी शुरू कर सकते हो या फिर अपने घर के आसपास कोई दुकान किराये पर लेकर भी शुरू कर सकते हो।

जब आप पापड़ का बिज़नेस करने का मन बना चुके हैं तो अब आपको बता दें कि पापड़ बनाने के लिये आपको कच्चे माल की आवश्यकता होगी यानी पापड़ बनाने की सामग्री की जरूरत होगी। तो

इसके लिये निम्नलिखित सामग्री आपको अरेंज करनी है:-

  • राइस पाउडर लेना है।
  • दाल लेनी है जैसे उड़द चना इत्यादि अलग अलग प्रकार की।
  •  नमक, मिर्च, अजवाइन इत्यादि मसाले लेने है।
  •  खाने वाला तेल लेना है।
  • कास्टिक सोडा भी लेना है।
  • पैकिंग करने की सामग्री भी लेनी है।

प्रक्रिया

दोस्तो ये सब उपरोक्त्त सामग्री पापड़ का बिज़नेस शुरू करने के लिये है। वैसे आजकल अनेक फ़्लेवर में पापड़ मार्किट में मौजूद हैं। लेकिन वो आप बाद में बिज़नेस ग्रो होने के बाद ट्राय कर सकते हो। पापड़ का बिज़नेस खाने की सामग्री से उठानी खाद्य पदार्थ से जुड़ा होने के कारण आपको फ़ूड विभाग से लाईसेंस भी लेना पड़ सकता है। लेकिन शुरुआत में आप ऑनलाइन अप्लाई करके 2-4 सो में इस प्रकार का लाइसेंस ले सकते हो।

शुरुआत में आपको हाथ से पापड़ बेल कर बनाने पर फोकस करना है। क्योंकि इस समय आपके पास ज्यादा ग्राहक नही होंगे तो मशीन की अभी आपको आवश्यकता नही पड़ेगी। मैन्युअली पापड़ बनाने के आप अपने आसपड़ोस की औरतों का सहारा ले सकते है। इससे ये होगा कि उन महिलाओं को रोजगार भी मिल जायेगा और आपका काम भी हो जायेगा। आप अपने उद्योग को सरकार के उद्योग आधार में रजिस्ट्रड करवाकर सरकार की तरफ से मिलने वाली प्रोत्साहन राशि भी ले सकते है जो आपके पापड़ के बिज़नेस में निवेश करने के काम आयेगी।

साबुन बनाने का बिज़नेस कैसे करें – How to start Soap Business in Hindi

साबुन का बिज़नेस एक सदाबहार चलने वाला बिज़नेस है। साबुन को सभी लोग इस्तेमाल करते है। नहाने का साबुन और कपड़े धोने का साबुन दोनों की ही जरूरत हर दिन रहती है। बाजार में आज अनेक प्रकार के खुशबूदार साबुन मौजूद है जो शरीर की सफाई और शरीर को सुंदर बनाने के लिए सालभर खरीदे जाते है। गरीब हो या अमीर, शहर हो या फिर गांव, हर जगह इसकी डिमांड रहती है। इस काम से आप Ghar Baithe Paise पैसे कमा सकते है

आपके साबुन बनाने के बिज़नेस का स्थान है वह बहुत मायने रखता है। कोशिश करें अपनी दुकान को ऐसी जगह से दूर रखने की जहाँ पहले से ही कई स्टोर खुले हो। आप घनी आबादी वाले क्षेत्र में एक स्टोर खोलें फिर चाहे आपके आसपास कोई प्रतियोगी ही क्यों ना हो, आपके पास से खरीदने वाले लोग वहां होंगे ही। आप कोई ऐसी जगह किराये पर ले लें जहां आपका साबुन बनाने का पूरा सैटअप हो जाये। ये जगह शहर या गांव से कुछ दूर रखें क्योंकि सुरक्षा की दृष्टि से ये जरूरी भी है।

अब जगह लेने के बाद बात आएगी की साबुन बनाने के लिए जरूरी सामग्री कौन कौन सी होती है?

तो दोस्तो के प्रकार के साबुन होते है जैसे औषधीय साबुन है, हर्बल साबुन है, नेचुरल साबुन है या फिर कोई खूशबूदार साबुन, इनको बनाने के लिये कच्चा माल ओर जरूरी केमिकल की जरूरत तो पड़ेगी ही। हमने इसके लिए जरूरी तेल और सामग्री लिखी है। इनका आपको प्रबंध करना होगा। जैतून का तेल, नारियल का तेल, ताड़ का तेल, बिनौले का तेल, सोडियम हाइड्रोऑक्साइड, पोटेशियम हाइड्रोऑक्साइड, स्किन फ्रेंडली प्रोडक्ट बनाने के लिए शहद, एलूवेरा, समुद्री शैवाल, जौ का आटा, रंगीन साबुन बनाने वाला रंग, खुशबूदार साबुन बनाने के लिए परफ्यूम आदि चीजों की जरूरत आपको पड़ने वाली है।

दोस्तो साबुन का बिज़नेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको लाइसेंस लेना पड़ेगा जो कि नगर पालिका के व्यापार विभाग से आपको मिलेगा। यह लाइसेंस आपके लम्बे समय तक और बड़े व्यापार के लिए बहुत जरूरी भी है ओर उपयोगी है।

दोस्तो अब बात कर लेते हैं कि साबुन बनाने के लिये आपको किन किन मशीनों की जरूरत पड़ने वाली है। सबसे पहले मिक्सिंग केटल की जरूरत पड़ने वाली है जो कि गर्म तरीके से साबुन बनाने के काम में आता है। उसके बाद आटोमेटिक सोप स्टैम्पिंग यानी मोल्ड: साबुन पर छापा लगाने वाली मशीन की भी जरूरत पड़ेगी। साबुन के बड़े बड़े डंडे को कटिंग करने वाली मशीन यानी स्टिक ब्लेंडर चहिये, स्टेनलेस स्टील का बना घड़ा ढक्कन सहित यानी लाई स्टोरेज टैंक की आपको जरूरत पड़ेगी। इसके अलावा स्टील का चम्मच और नापने वाला कप व मग, माइक्रोवेव, टेस्टिंग किट ओर दास्ताने यानी ग्लब्स व काला चश्मा भी आपको लेना होगा।

अचार बनाने का बिज़नेस कैसे करें – How to start Pickle business in Hindi

आज के समय मे अगर आप किसी ढाबे पर भी खाने बैठ जाएंगे तो खाने के साथ आपको अचार जरूर सर्व किया जाता है। अचार एक सदाबहार चलने वाला फ़ूड है। इस बिज़नेस को आप अपने घर से ही शुरू कर सकते है। Ghar Baithe Paise पैसे कमा सकते है।  ज्यादा तामझाम की जरूरत भी नही होती। बस आपको पब्लिक के टेस्ट का ध्यान रखना होता है। इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए पहले आप अपने घर पर साफ सफाई से अचार बनाकर ओर पहले अपने मोहल्ले ओर गांव में बेचना शुरू करें। इससे ये होगा कि आपके अचार की क्वालिटी के बारे में भी आपको लोगों से पता लैह जायेगा और आपकी आमदनी भी शरू जो जायेगी।

लोगो के फीडबैक के आधार पर अपने अचार की क्वालिटी ओर टेस्ट को बेहतर बनाने के बाद अब आप अपने अचार को एक ब्रांड नेम दे दीजिये। हमेशा आपको ऐसे एरिया को टारगेट करना है जहां अचार की खपत ज्यादा होती है। जैसे ढाबे हुये, होटलों में बात करें, गांव में भी सप्लाई करें। गांव में आचार की खपत बहुत अधिक होती है।

लाइसेंस

चूंकि अचार एक फ़ूड प्रोडक्ट है तो इसके लिये आपको लाइसेंस भी लेना होगा। ये लाइसेंस आपको फ़ूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड आथोरिटी (FSSAI) से आसानी से मिल जायेगा। लाइसेंस फ़ॉर्म भरने के लिये आपको कहीं इधर उधर जाने की आवश्यकता नहीं है। इसके लिये ऑनलाइन आवेदन फ़ॉर्म भरा जाता है।

अच्छा जब आप अपने आसपास अचार सप्लाई करने लगेंगे तो आपमे अचार बनाने और बेचने की कला में सुधार हो जायेगा। जब आपको लगे कि हां अब मैं ज्यादा एरिया को कवर कर सकता हूँ तो थोड़ा बड़े लेवल पर अचार बना और बेचना शुरू करें। मोटा मोटी 10 हजार के अचार में आप 20-25 हजार का मुनाफा आराम से कमा सकते हैं।

अचार के बिज़नेस में इस्तेमाल के लिए आपको निम्न कच्चे माल की जरूरत पड़ने वाली है।

  • कच्चे फल या सब्जियां जैसे आम है, गाजर है, मिर्च,निम्बू, आंवला आदि लेने होंगे।
  • मसालों की बात करें तो मेथी लेनी होगी, अमचूर हुआ, हल्दी हुई, लालमिर्च पाउडर हुआ
  • धनिया, जीरा, सौफ व अन्य जरूरी मसाले भी आपको लेने होंगे।
  • सरसो का तेल भी आपको लेना होगा क्योंकि सरसों के तेल के बिना अचार बनेगा नही।
  • नमक अचार का एक बेहद अहम हिस्सा होता है तो ये भी आपको लेना होगा।

अचार बनाने में सामग्री के अलावा कुछ मशीनें ओर उपकरण भी आपको लेने होंगे जैसे पिकल मिक्चर जो अचार को मिक्स करने के काम मे आता है। चक्की मसालों को पीसने के लिये, वजन नापने के स्केल जिससे आप अचार का वजन करेंगे और लेबेललिंग यूनिट, कंटेनर व बर्तन जिनमे अचार पैक किया जायेगा।

इसके अलावा अचार के बिज़नेस में आपको कुछ बातों का भी ध्यान रखना होगा। यदि इन बातों का ध्यान नही रखा जायेगा तो आपको दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। और ये जरूरी भी है।

ध्यान देने योग्य बाते

सबसे पहले आपका अचार साफ़-सफ़ाई से बनाया जाना चाहिये क्योंकि अगर अचार सफ़ाई से बना होगा तो वो जल्दी ख़राब भी नहीं होगा। इससे लोगों में आपके अचार के प्रति एक पॉजिटिव इफ़ेक्ट पड़ेगा। वो भी आपके अचार को रैफर करने लगेंगे की फलाना अचार बहुत बढ़िया क्वालिटी का है।

दूसरी बात आती है कि आप हमेशा मिलावट से बचकर रहें। अपनी लागत कम करने के चक्कर मे अचार में किसी तरह की मिलावट नहीं करनी है। अगर आपके अचार में मिलावट हुई तो एक ना एक दिन वो पकड़ी जायेगी और फिर आपके ब्रांड का नाम ख़राब होगा तथा लोगों का भरोसा आप पर से उठ जायेगाजो।

किसी भी बिज़नेस में जरूरी नही की हर इंसान विश्वास के क़ाबिल हो इसलिये व्यापार में किसी पर ज़्यादा भरोसा कभी भी ना करें। अपने बिज़नेस में पैसे के लेन-देन का हिसाब बराबर रखें क्योंकि हिसाब में चूक हुई, तो आपका नुकसान होना तय है।

आपको अपने अचार का एक सही दाम रखना होगा क्योंकि आप अकेले तो होंगे नही मार्किट में। आपका अचार दूसरों से महंगा होगा तो कम लोग ही खरीदेंगे। इसलिए अपने ब्रांड को पॉपुलर होने तक अपने दाम को कम रखें।

अचार के बिज़नेस में लागत की बात करें तो 50-60 हजार में आपकी एक छोटी शुरुआत हो सकती है। और शुरू में छोटे लेवल पर ही करना सही रहता है। ज्यादा तामझाम से शुरुआत में बचना चाहिये। मुनाफे की बात अगर की जाये तो 50 हजार की लागत में आराम से आप इतने Ghar Baithe ही कमाई भी कर सकते है।

अगरबत्ती बनाने का बिज़नेस कैसे करें – How to start Incense Stick business in Hindi

  • दोस्तो अगरबत्ती का नाम तो आपने सुना ही होगा। बहुत बिकती है। रोजाना जरूरत भी होती है। और जब रोजाना इस्तेमाल होती है तो क्यों ना इसको बिज़नेस में तब्दील कर दिया जाये। देखिये भारत देश मे लोग धार्मिक कार्यों में रुचि ज्यादा लेते हैं।
  • अपने यहां हर त्योहार को धूमधाम से मनाया जाता है। और हर त्योहार पर पूजापाठ होती रहती है। और जाहिर सी बात है पूजा में अगरबत्ती जरूर इस्तेमाल होती है। और वैसे भी हर घर मे रोजाना पूजा में उपयोग की जाती है। इसका सीधा सा मतलब है कि अगरबत्ती की खपत काफी ज्यादा है। पूरे साल भर इसकी डिमांड रहती है। इस काम से आप Ghar Baithe Paise पैसे कमा सकते है
  • अगरबत्ती का बिज़नेस बहुत ही आसान है और लागत भी ज्यादा नही है।
  • इसको आप मैनुअल ओर मशीन दोनों से कर सकते हो।
  • मैनुअल में मेहनत ज्यादा है तो वही मशीन आपका घंटो
  • तो ये भी जानना जरूरी है कि इसका कच्चा माल क्या क्या है
  • और कहां से तथा कितने रेट में आता है। तो कच्चा माल कोई ज्यादा महंगा नही होता। सस्ते में ही आपका काम चल जायेगा।
  • अगरबत्ती बनाने के लिये कच्चा माल भारत के किसी भी हिस्से में बड़ी आसानी से जब चाहे तब खरीद सकते हैं।

सामग्री

  •  चारकोल पाउडर चाहिए जो करीब 13 रुपये किलो मिलता है।
  • जिगात पाउडर चाहिए जो 60 रुपये किलो आता है।
  • सफेद चिप्स पाउडर करीब 25 रुपये किलो में आपको मिल जायेगा।
  • बैम्बू स्टिक आपको चाहिए जो करीब 120 रुपये में एक किलो मिल जाती है। 
  • बांस की छड़े चीन और वियतनाम से आती है।
  • गोंद की भी जरूरत पड़ेगी और ये तो सस्ता ही होता है।

कच्चे माल के बाद अब बात आती है कि मैनुअल काम शुरू करें कि मशीन से। तो यहां पर आपको मशीन से काम करना सजेस्ट करेंगे क्योंकि मैनुअल प्रोसेस बहुत ही स्लो होता है। इसमें इंसान की काम करने की गति के हिसाब से ही आपका प्रोडक्शन डिपेंड करता है।अब मशीन की बात है तो इसमें अगरबत्ती बनाने की तीन तरह की मशीन आती है।

 मैन्युअल अगरबत्ती बनाने की मशीन

मैनुअल अगरबत्ती बनाने की मशीन सिंगल और डबल पेडल दोनों में आती है। ज्यादा उत्पादन, कीमत बिल्कुल कम ओर बेहतर गुणवत्ता के साथ बिल्कुल सरल मशीन है। इस अगरबत्ती बनाने की मशीन में बिजली की आवश्यकता नहीं होती है।

 सेमि ऑटोमैटिक अगरबत्ती बनाने की मशीन

ये स्वचालित जोती है तो आपको करीब 160-170 अगरबत्ती स्टिक प्रति मिनट के हिसाब से प्रोडक्शन देगी। इस मशीन में गोल ओर चौकोर दोनों तरह की छड़ों का इस्तेमाल आप कर सकते हो। ये मशीन आपकी आवश्यकता के हिसाब से अलग अलग साइज ओर अलग अलग डिज़ाइन में मिल जायेगी।

 हाई स्पीड ऑटोमैटिक अगरबत्ती बनाने की मशीन

ये मशीन फुल ऑटोमैटिक होती है इस कारण आपको इस मशीन से 400-450 अगरबत्ती स्टिक प्रति मिनट के हिसाब से आसानी से प्रोडक्शन मिल जायेगा। इस मशीन में आप 8 इंच से लेकर 12 इंच तक प्रोडक्शन ले सकते है।

  • इसके अलावा अगरबत्ती सुखाने के लिये आपको अलग से मशीन लेनी होगी
  • साथ मे अगरबत्ती बनाने का मिश्रण तैयार करने की मशीन भी आपको लेनी होगी।
  • इनकी कीमत इतनी ज्यादा नही होती। सस्ते में ही आ जाती है।

अब बात आती है कि आप अगरबत्ती को बेचेंगे कहां पर तो दोस्तो आप अगरबत्ती को आपके आसपास लोकल मार्केट में, पास की दुकानों पर, स्टोर पर और ऑनलाइन अमेज़न तथा फ्लिपकार्ट पर भी बेच सकते हैं। ऑनलाइन इनके अलावा भी बहुत सारे प्लेटफार्म मौजूद हैं जहां आप आसानी से अपनी अगरबत्ती को बेच सकते हैं। आप अपने नजदीक की होलसेल पर भी सप्लाई दे सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.