अगरबत्ती बनाने का बिज़नेस कैसे शरू करें – Agarbatti Banane Ka Business Kaise Shuru Karen in Hindi

Agarbatti Making Business – भारत में बहुत बड़ी संख्या में रोजाना धर्म कार्य होते रहते है और केवल भारत ही अपितु पूरी दुनिया में रोजाना धर्म कर्म और पूजा पाठ होती है। अब ऐसे में समुदाय कोई भी हो लेकिन अगरबत्ती का इस्तेमाल सभी करते है। अगरबत्ती की मांग साल भर रहने के साथ ही त्योहारों पर तो अच्छी खासी डिमांड रहती है। हर घर में रोजाना अगरबत्ती जलाकर पूजा जरूर की जाती है। ऐसे में अगरबत्ती का बिज़नेस एकक फायदेमंद बिज़नेस रहेगा। इस बिज़नेस को आप छोटे या बड़े दोनों लेवल पर शुरू कर सकते हो। अगरबत्ती घरो में खुबशु फैलने के साथ साथ कई अन्य गुण जैसे एंटी सेफ्टिक और कीटनाशी आदि गुण भी रखती है।

अगर आप कोई बिज़नेस करने का प्लान बना रहे है तो अगरबत्ती का बिज़नेस करने के बारे में सोच सकते है। हमारे भारत में तो खपत इतनी ज्यादा है अगरबत्ती की, की हर घर में रोजाना सुबह शाम इसके बिना काम ही नहीं चलता। तो दोस्तों चलिए इस पोस्ट में आपको बताते है की अगरबत्ती का बिज़नेस कैसे करें और अगरबत्ती के बिज़नेस से कितना फायदा हो सकता है। आपके मन में यदि कोई प्रश्नं इस पोस्ट को पढ़ने के बाद रह जाये तो आप हमें कमेंन्ट के माध्यम से पूछ सकते ह। हम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश करेंगे।

इसको भी पढ़े: –घरेलू महिलाओं के लिए घर बैठे पार्ट टाइम काम – Ghar Baithe Job For Ladies in Hindi

अगरबत्ती बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें – How to start agarbatti making business in Hindi

आमतौर पर अगरबत्ती बनाने का बिज़नेस हम दो तरीको से कर सकते है। छोटा बिज़नेस या फिर बड़ी मात्रा में बिज़नेस। ये केवल आप पर निर्भर करता है की आप इसे किस स्तर पर करना चाहते है। अगरबत्ती के व्यवसाय में जोखिम बिलकुल भी नहीं है फिर भी आप इसे छोटे स्तर से शुरू करें। लेकिन किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा।

  • सबसे पहले आपको कितनी लगत आएगी इसका हिसाब किताब लगाना है और उसी के अनुसार अपनी सभी योजनाओ को तय करना है।
  • संभावित बाज़ारों के बारे में पूरी जानकारी जुटाए और वहां के बारे में गहर्रई से पता करें की कहीं आपको आएगी चलकर कोई समस्या का सामना तो नहीं करना पड़ेगा। इससे आपको आने वाली सभी बाधाओं से बचने का मोका मिलेगा।
  • किस जगह पर आपको अपना बिज़नेस शुरू कारण है इसका चुनाव कर ले। ताकि आपका बिज़नेस निर्धारित समय के अंदर शुरू हो सके।
  • व्यापर में क्या क्या सामान लगने वाला है जैसे मशीन, बनाने की सामग्री, पैकिंग का सामान, फर्नीचर आदि का पहले से एक योजना बना लीजिय।

इसको भी पढ़े:  Electric Scooter की डीलरशिप कैसे ले? Full Process Electric Scooter Dealership in Hindi

अगरबत्ती बनाने की सामग्री क्या क्या होती है – Agarbatti Banane Ke Liye Raw Material

Agarbatti Making Business – अगरबत्ती बाबाने के लिए बहुत सी सामग्री की जरूरत होती है। अगरबत्ती कई प्रकार की होती है और उसी के हिसाब से उसमे सामग्री लगती है। अगरबत्ती बनाने की सामग्री आप पुरे भारत में कही से भी खरीद सकते है। कोलकाता और अहमदाबाद में कुछ इंडस्ट्री है जो अगरबत्ती बनाने का सामान प्रोवाइड करते है। इनमे कृष्णा ग्रुप है दुर्गा इंजीनियरिंग है और शांति इंटरप्राइजेज है। अगरबत्ती बनाने के लिए आपको निम्नलिखित सामग्री की जरूरत पड़ेगी –

Agarbatti Banane Ke Liye Raw Material
Agarbatti Banane Ke Liye Raw Material

अगरबत्ती बनाने की मशीन कौन कौन सी है – Agarbatti Manufacturing Machine

दोस्तों अगरबत्ती बाबाने के लिए तीन तरह की मशीन होती है –

  1. मैन्युअल अगरबत्ती बनाने की मशीन
  2. सेमि आटोमेटिक अगरबत्ती बनाने की मशीन
  3. फुल आटोमेटिक अगरबत्ती बनाने की मशीन

मैन्युअल अगरबत्ती बनाने की मशीन –

इस मशीन को ऑपरेट करना बहुत आसान होता ही और साथ में इसका मैंटीनैंस भी ज्यादा नाही होता। इस मशीन को कोई भी व्यक्ति बिना किसी प्रशिक्षण के भी चला सकता है। ये मशीन बिजली से नहीं चलती बल्कि मैन्युअल पैडल की सहायता से चलती है। इस मशीन के द्वारा आप 8 घंटे में करीब 18 से 20 किलो अगरबत्ती बना सकते है। इस मशीन की कीमत आज के समय में 20 हजार से 25 हजार रूपए है। अगरबत्ती बनाने की मशीनों में सबसे सस्ती और टिकाऊ मशीन है ये।

इसको भी पढ़े:  घर बैठे रोजगार करने के तरीके | Ghar Baithe Paise Kaise Kamaye?

सेमि आटोमेटिक अगरबत्ती बनाने की मशीन –

इस मशीन की स्पीड मानल मशीन से ज्यादा होती है ऐसी कारण आप इस मशीन से आठ घंटे में करीब 100 किलो तक अगरबत्ती बना सकते है। इस मशीन की कीमत की बात करे तो आपको ये indiamart से लगभग 80 से 90 हजार में मिल जाएगी। ये मशीन बिजली से चलती है इसी कारण इसकी प्रोडक्शन मैन्युअल मशीन के मुकाबले ज्यादा है।

फुल आटोमेटिक हाई स्पीड अगरबत्ती बनाने की मशीन –

ये मशीन सभी मशीनो में सबसे तेज चलने वाली होई है इस कारण इसकी प्रोडक्शन भी ज्यादा होती है। हाई स्पीड मशीन होने के कारण इसमें कूलिंग सिस्टम होता है जो मशीन को ठंडा रखने में मदद करता है। इस मशीन से आप आठ घंटे में 150 किलो तक की अगरबत्ती बड़े आराम से बना सकते है। अगर आप अगरबत्ती का बिज़नेस करना चाहते है तो ये मशीन आपको जरूर लेनी चाहिए क्योंकि बिज़नेस में कम समय में ज्यादा प्रोडक्शन बहुत ही अहम मायने रखता है। आपका प्रोडक्शन जितना अधिक होगा आप उतने ही अधिक एरिया में सप्लाई दे सकते है और अपने बिज़नेस को बढ़ा सकते है।

अगरबत्ती सुखाने की मशीन – Agarbatti Sukhane Ki Machine (Agarbatti Dryer)

Agarbatti Making Business – अब मशीन की बात तो हो गई तो अब बात करते है अगरबत्ती बनाने के बाद उसको सुखाने की मशीन भी आपको लेनी होगी। जब आपका प्रोडक्शन अधिक होगा तो आपको तैयार अगरबत्ती को सुखाना भी जल्दी जल्दी होगा। और इसके लिए आपको मशीन का सहारा लेना होगा। अगरबत्ती सुखाने की मशीन की कीमत लगभग 30 से 35 हजार के बीच में होती है और ये मशीन आठ घंटे में 150 किलो अगरबत्ती सूखा देती है। अगर आप छोटा बिज़नेस करते है तो उस परिस्थिति में आप अपने घर में पंखे का इस्तेमाल करके अगरबत्ती को सूखा सकते है। छोटे बिज़नेस में आपको ये मशीन लेने की जरूरत नन्ही पड़ेगी।

अगरबत्ती सामग्री को मिक्स करने की मशीन – Agarbatti Powder Mixing Machine

दोस्तों छोटे लेवल के अगरबत्ती के बिज़नेस में इस मशीन की जरूरत नाही है लेकिन अगर आप बड़े लेवल पर मशीनो से Agarbatti banane Ka Business करते है तो आपको अगरबत्ती पाउडर मिक्सिंग मशीन लेनी होग। इस मशीन की मदद से अगबत्ती पाउडर के मिश्रण को तुरंत तैयार किया जा सकता है। इस मशीन की कीमत की बात करें तो

बाजार में ये लगभग 35 हजार में आसानी से मिल जाती है। आमतौर पर Agarbatti Mixture तैयार करने के लिए चार तरह का मसाला डाला जाता है जिसमे Charcoal Powder, Wood Powder, Jigat Powder और कुछ Chemical Powder होते है। इनको ही इस मशीन में एक निश्चित मात्रा में डालकर और पानी डालकर मिक्स किया जाता है। और इसी काम को तुरंत और बेहतर ढंग से करने के लिए इस मशीन की जरूरत होती है।

अगरबत्ती की पैकिंग कैसे करें – Agarbatti Packing Kaise Karen 

Agarbatti Making Business – देखिये दोस्तों जब भी आप मार्किट में जाते है तो सबसे पहले जहाँ आपकी नजर जाती है वो होता है उस वास्तु की पैकिंग। सबसे पहले आप पैकिंग देखते है। ज्यादातर लोग पैकिंग देखकर ही ये निश्चित करते है की सामान खरीदना है की नहीं। तो अगरबत्ती की पैकिंग में आपको बिलकुल भी कौताही नहीं बरतनी है।

आप अगरबत्ती पैकिंग में जिस भी बॉक्स का इतेमाल कर रहे है वो अट्रैक्टिव हो इस बात का ध्यान रखें। बॉक्स के ऊपर आपके ब्रांड का नाम भी अवशय होना चाहिए ताकि लोगो के दिमाग में आपके ब्रांड का नाम याद रहे। अगरबत्ती की पैकिंग आप मैनुअल और मशीन दोनों तरीको से कर सकते है। मैन्युअल में हाथो से अगबत्ती की गिनती करके फिर इस पैक किया जाता है जबकि मशीन में सब काम आटोमेटिक होता है। मशीन खुद अगबत्ती की गिनती करती है और उसके बाद पैकिंग भी करती है।

अगरबत्ती बिज़नेस के लिए रजिस्ट्रशन – Agarbatti Business Registration Kaise Karen 

जब आप अगरबत्ती का बुसनेस्स बड़े तौर पर शुरू करेंगे तो अआप्को अपने बिज़नेस को रजिस्ट्रेड करवाना होगा और उसके लिए आपको निचे दिए गए कुछ बिंदुओं पर ध्यान देना होगा –

  • सबसे पहले आपको अपने बिज़नेस के लिए एक नाम निर्धारित करना है जिस ब्रांड के निचे आप अपना सामान मार्किट में बेचेंगे
  • उसके बाद आपको अपने बिज़नेस साइज के हिसाब से ROC के पास रजिस्ट्रेड करवा लेना है। इससे लोगो का आपकी कंपनी पर भरोसा बनेगा और अगर निवेशककों को भी एकक ट्रस्ट होगा आपकी कंपनी पर।
  • इसके बाद आपको स्थानीय अधिकारी से कंपनी चलने का लाइसेंस लेना होगा।
  • इसके बाद आपको बिज़नेस कैटगरी का पैन कार्ड बनवाना है।
  • अपने बिज़नेस के नाम से बैंक में अकाउंट खुलवाना है।
  • इसके बाद आपको VAT रजिस्टर करवाना है आपकी कंपनी के नाम से।
  • इसके साथ आपको अपने कंपनी के logo और अपने नाम को भी रजिस्टर करवाना है।
  • प्रदूषण विभाग से और फायर विभाग से भी आपको NOC लेनी है।

क्या अगरबत्ती बिज़नेस शुरू करने के लिए सरकारी सहायता मिल सकती है – Bank Loan For Agarbatti Business

Agarbatti Making Business – देखिये दोस्तों आज के समय म आप कोई भी बिज़नेस शुरू करें तो आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं रहती क्योंकि सरकार की तरफ से हार तरह के बिज़नेस पर आसानी से ऋण दिया जाता है।

  • बैंक कहते है की छोटे बिज़नेस वालो को आर्थिक सहायता मिले और इसके लिए बहुत ही सरल प्रकिया के माध्यम से ऋण मिलता है।
  • लेकिन आपको ऋण लेने के लिए कुछ शर्तो को पूरा करना होता है।
  • जैसे आपको ROC यानि रजिस्ट्रशन और कंपनी करवाना होता है।
  • लोकल अथॉरिटी से अपना बिज़नेस चलने का लाइसेंस लेना होता है आदि कुछ शर्ते होती है।
  • फिर भी आपको सलाह देंगे की एक बार अपने पास के बैंक म जाकर इसके बारे में एक बार जानकारी जरूर प्राप्त करें
  • क्योंकिं ऋण के नियम समय समय पर बदलते रहते है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *