Fatty Liver in Hindi | फैटी लीवर का ईलाज | फैटी लीवर के लक्षण क्या हैं

आज के समय मे फैटी लिवर (Fatty Liver in Hindi) की Problem आम समस्या बनती जा रही है, जो ज्यादातर लोगों में देखने को मिलती है। Fatty Liver की बीमारी किसी भी व्यक्ति को हो सकती है। Fatty Liver को हिंदी में गुर्दे की चर्बी कहते है। Fatty Liver एक तरह की लिवर की बीमारी होती है। पहली नज़र में लोग, इस बात को समझ नहीं पाते हैं कि उन्हें Fatty Liver है और इसी कारण वे इसका इलाज सही समय पर शुरू नहीं करा पाते हैं।

फैटी लिवर क्या है? | What is Fatty Liver in Hindi?

लिवर में वसा की मात्रा अधिक होने पर Liver Fatty हो जाता है ओर इसके कारण लिवर में खराबी आ जाती है। केवल अधिक तैलीययुक्त पदार्थ से लिवर में फैट नहीं होता है। बल्कि अधिक मात्रा में शराब का सेवन करने से भी लिवर को बहुत नुकसान पहुंचता है। इस नुकसान के कारण लिवर काम करना बंद कर देता है। यदि आप भी Fatty Liver in Hindi की आवश्यक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको इस लेख को ज़रूर पढ़ना चाहिए क्योंकि इसमें Fatty Liver से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी दी गई है।

फैटी लिवर रोग के कितने चरण हैं? | What are the stages of fatty liver disease in Hindi?

फैटी लिवर (Fatty Liver) की बीमारी तीन चरणों मे आगे बढ़ती है। जिसमे तीसरे नंबर का चरण बहुत ही घातक होता है।

1.) साधारण फैटी लिवर – Simple fatty liver – Fatty Liver in Hindi

इस चरण में लिवर पर हल्की चर्बी छा जाती है। इसका निदान घर पर ही परहेज करने से हो जाता है। इसमें वसा की मात्रा लिवर के भार से 10 प्रतिशत अधिक हो जाती है।

2.) सूजन के साथ फैटी लिवर – fatty liver with inflammation – Fatty Liver in Hindi

इसमें अत्यधिक वसा के जमा होने के कारण लिवर पर सूजन आ जाता है। ऐसी स्थिति होने पर डॉक्टरी ईलाज की जरूरत होती है। अन्यथा परिणाम गंभीर हो सकते है।

3.) फैटी लिवर सिरोसिस – Fatty liver cirrhosis – Fatty Liver in Hindi

ये तीसरा चरण होता है। इसमें लिवर सिकुड़ कर सख्त हो जाता है। एक बार जब लिवर सिरोसिस विकसित हो जाता है, तो लिवर की विफलता, लिवर कैंसर और मृत्यु का प्रमुख खतरा होता है।

फैटी लिवर के लक्षण क्या हैं? | Symptoms of fatty liver in Hindi

आज के समय Fatty Liver किसी भी व्यक्ति को हो सकती है। Fatty Liver वाले अधिकांश व्यक्तियों में कोई लक्षण दिखाई नही देते। हालांकि कुछ को Liver के बढ़ने के कारण पेट के दाहिनी ओर दर्द का अनुभव हो सकता है। इसके अलावा कुछ और लक्षण भी हैं जैसे थकान, मतली यानी उल्टी होना और भूख न लगना। जब व्यक्ति के लिवर में सिरोसिस विकसित हो जाता है तब लिव्व्र तब आँखों का पीलापन (पीलिया), पेट में पानी भरना (एडिमा), खून की उल्टी, मानसिक भ्रम और पीलिया रोग भी हो सकता है।और अधिक पढ़े -:

फैटी लिवर रोग का निदान कैसे किया जाता है? | How is Fatty Liver Disease Diagnosed?

इसमें सबसे जरूरी होता है वार्षिक जांच जरूरी करवानी चहिये। इससे Fatty Liver के रोग का शुरुआती चरण में ही पता लग सकता है और समय रहते इलाज हो सकता है। Fatty Liver की बीमारी आमतौर पर रूटीन जांच के दौरान सामने आती है। खून की जांच से भी लीवर के बढ़े होने का पता लग जाता है। इसके अलावा कुछ नए परीक्षण “फाइब्रोस्कैन” और “फाइब्रोटेस्ट” भी करवाने चाहिये। ये टेस्ट ज्यादा विस्वसनीय है।

फैटी लिवर का इलाज कैसे किया जाता है? | How is fatty liver treated?

वर्तमान में, Fatty Liver Treatment के लिए कोई Medicine नहीं है। प्रारंभिक फैटी लिवर का इलाज आमतौर पर भोजन में परिवर्तन करके, वजन घटाने, व्यायाम करने और मधुमेह जैसे खतरों से बचाव करके किया जा सकता है। अगर लीवर गंभीर अवस्था मे पहुंच जाता है तो लीवर फेल होने के चांस बढ़ जाते हैं। इस परिस्थिति में Liver Transplant करके ही रोगी की जान बचाई जा सकती है। वहीं जो व्यक्ति मोटे हैं और उन्हें fatty liver की समस्या भी है वे अपना weight loss करके इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

फैटी लिवर का आयुर्वेदिक उपचार कैसे करें? | Ayurvedic Treatment for Fatty Liver in Hindi

1.) हल्दी से फैटी लीवर का उपचार | Treatment of fatty liver with turmeric 

हल्दी एक तरह की आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जिसका उपयोग फैटी लिवर के उपचार में किया जाता है। वैसे इसके अलावा भी बहुत सी बिमारियों में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। हल्दी में antiseptic properties और high amounts of antioxidants होता है। यदि कोई व्यक्ति रोजाना हल्दी का उपयोग भोजन में करता है तो उसको fatty liver की समस्या कभी नहीं होती। दूध में हल्दी मिलाकर भी आप इसका सेवन कर सकते है और आप चाहे तो एक ग्लास गुनगुने पानी में चुटकी भर हल्दी मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं।

2.) लहसुन से फैटी लिवर का इलाह | Treatment of fatty liver with garlic

लहसुन स्वास्थ के लिए बहुत ही फायदे मंद होता है। घरों में सब्जी बनाते समय भी इसका उपयोग इसीलिए किया जाता है की ये हमारे इम्यून सिस्टम को दुरुस्त रख सके। लहसुन का सेवन शरीर से फैट की मात्रा को काम कर देता है। लहसुन में ऐसा यौगिक होता है जो नॉन एल्कोहलिक फैटी लिवर रोग से सुरक्षा प्रदान करता है। इसका उपयोग आप सलाद के रूप में भी कर सकते हैं और सुबह सुबह इसकी कलियों को खाली पेट भी ले संते हैं।

3.) ग्रीन टी से फैटी लिवर का इलाज | Treatment of fatty liver with green tea 

आयुर्वेदिक उपचारों के लिये ग्रीन टी का उपयोग बहुतायत किया जाता हैं। ग्रीन टी के अंदर कैटेचीन नाम का एंटीऑक्सीडेंट होता है जो लिवर की सूजन को काम कर देता है। ग्रीन टी पीने से शरीर में चर्बी काम होने लगती है इसलिये शरीर को स्वस्थ रखने और लिवर को फैटी होने से बचाने के लिये ग्रीन टी का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

फैटी लीवर के बारे में बार-बार पूछे जाने वाले सवाल | Frequently asked questions about Fatty Liver – Fatty Liver in Hindi

Q1. Fatty Liver को कैसे कम किया जा सकता है?

Ans- Fatty Liver को कम करने के लिए अपने वजन को नियंत्रण में रखना, हेल्थी डाइट अपने भोजन में लेना और लीवर को सेहतमंद रखना इत्यादि तरीके कारगर साबित हो सकते हैं। इसमें शराब का सेवन भी बंद करना होता है।

Q2. Fatty Liver में किस तरह का भोजन नहीं करना चाहिए? 

Ans- Fatty Liver होने पर शराब नहीं पीनी चाहिये, चीनी, तला हुआ खाना और नमक इत्यादि को बिलकुल बंद कर देना चाहिये। क्योंकि यह फैटी लीवर को और ज्यादा फैटी करने में सहायता करते हैं।

Q3. क्या Fatty Liver खतरनाक हो सकता है?

Ans- यदि Fatty Liver का इलाज समय रहते न किया जाये तो यह खतरनाक साबित हो सकता है। आपको लीवर का कैंसर भी हो सकता है।

Q4. क्या Fatty Liver तनाव लेने से हो सकता है?

Ans- जी हां, बिल्कुल अत्यधिक तनाव लेना भी आपके लीवर को फैटी कर सकता है। बस आपको ध्यान रखना होगा की अधिक तनाव होने पर आपको शराब आदि का नहीं करना है। ये आपके फैटी लीवर को और ज्यादा खतरे की तरफ धकेलने का कार्य करेगी।

Q5. Fatty Liver होने पर किस तरह का आहार खाना चाहिए?

Ans- Fatty Liver के दौरान अपने आहार पर विशेष ध्यान होता है। केवल ग्रीन टी, कॉफी, लहसुन का सेवन जयादा करना चाहिये।

Q6. क्या टमाटर Fatty Liver होने पर खाना कारगर साबित हो सकता है?

Ans- नहीं, टमाटर का सेवन बिलकुल नहीं करना है। फैटी लीवर में टमाटर खाना काफी नुकसानदायक होता है। आपका लीवर और जायदा फैटी हो जायेगा।

Q7. क्या Fatty Liver में दर्द होता है? – Fatty Liver in Hindi

Ans- ज्यादातर मामलों में Fatty Liver से किसी भी प्रकार का दर्द नहीं होता। लेकिन कभी कभी फैटी लीवर होने पर पेट में काफी दर्द होता है। अगर ऐसा होता है तो तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिये। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.