आ रहा है Deepawali का त्यौहार | रखें इन 10 बातों का ध्यान

आप सभी जानते है की Deepawali हिन्दुओं का सबसे बड़ा त्योहार है। इसके लिए हम ढेर सारे उत्साह के साथ साथ कई तरह की तैयारियां करते हैं। लेकिन दिवाली त्योहार पर यह उत्साह बना रहे और सभी सुरक्षि‍त भी रहें यही सबसे बड़ी बात होती है। वैसे देखा जाये तो हर एक त्योहारों पर हम बहुत सी बातों का ध्यान रखते हैं, लेकिन Deepawali पर आपको विशेष रूप से कुछ और भी बातों का ध्यान रखना होता है। इसलिए इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे है कुछ खास बातें जिनका आपको ध्यान रखना है ताकि आपका उत्साह किसी तरह से भी कम न हो पाए। चलिए देखते है क्या क्या बातें है।

Deepawali  पर खरीदारी करते समय सावधान : Be careful when shopping

  • इस समय खरीदारी (Shopping) भी आप सभी जमकर करते हैं।
  • ऐसे में किसी एक ही स्थान से सारी चीजें खरीदने से पहले बाजार में उन सभी चीजों के दाम अवश्य चेक करे
  • जिन्हे आप खरीदने आये हैं।
  • कई बार हमें बाजार में चीजों की वैराइटी और सही मूल्य पता नहीं होता
  • जिससे हम जायदा पैसे खर्च करके भी उतनी अच्छी चीजें नहीं खरीद पाते।

ऐसे समय में आपको छोटे बाजारों का रुख करना बेहतर होता है। छोटे बाजारों में आपको वैराइटी भी अधिक मिलती है, और आप वहां के दुकानदारों से मोल-भाव भी कर सकते हैं। त्योहार में होने वाले अत्यधिक खर्च पर आप इस प्रकार से कुछ मात्रा में नियंत्रण जरूर कर सकते हैं।

Deepawali  परसुरक्षा का ध्यान रखें : Take care of safety

Deepawali  जैसा त्योहार हो, और सुरक्षा की बात न की जाए, ऐसा कभी नहीं हो सकता। दीपावली पूजन के बाद के बाद शाम को होता है पटाखों का दौर और इस समय आपको थोड़ी सावधानी भी रखनी चाहिए। Deepawali  पर जलाए जाने वाले पटाखे, फुलझड़ियां आपके त्योहार को जितना संवारते हैं, जरा सी अनदेखी से उससे अधिक बिगाड़ भी सकते हैं। इसलिए इनका प्रयोग करते समय विशेष तौर पर सावधानी बरतना बहुत जरूरी है, यह बिल्कुल मत भूलिएगा।

इस समय अगर आप घर में कहीं दीपक भी जला रहे है तो दीपक जलाने में भी सावधानी रखें। ऐसे कपड़े कभी न पहनें जो जल्दी आग पकड़ते हों। घर में दीपक जलाकर रखना हो तो सुरक्षित जगह पर ही रखें। इस तरह से आप अनहोनी की किसी भी आशंका से बचे रहते हैं।

खान पान का रखे ध्यान : Take care of food

त्योहारों चाहे कोई भी हो, पकवान बनने और बाजार से लाने का सिलसिला भी खूब चलता है। लेकिन इसमें भी आपको फूंक-फूंक कर कदम रखना होगा। अगर बाजार से मिठाइयां ला रहे हैं, तो मावे या दूध की मिठाई से परहेज ही करें। त्यौहार के समय बाजार में मिलावट का धंधा बढे जोरशोर से चलता है। घर पर मावे की मिठाई बनाते समय भी ध्यान रखें, अगर मावा मिलावटी हुआ तो आपको बीमार कर सकता है। इसलिए कोशिश करे की सभी चीजें अपने घर पर ही तैयार करें और फिर पकवान बनाये। हर साल दि‍वाली के समय इन कारणों से कई लोग बीमार पड़ते हैं।

अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखे : Take care of your health

आप सभी जानते है की नवरात्रि से लेकर Deepawali  तक घर की साफ-सफाई सजावट और कई छोटी-मोटी चीजें आपके काम और बढ़ा देती है। ये सब करते करते शरीर पूरी तरह से थक जाया है। ऐसे में शरीर पर काम का अतिरिक्त दबाव डालने से बचें। अपनी सेहत पर विशेष ध्यान दें और खान-पान भी सेहतमंद रखें। आप अगर स्वस्थ होंगे तभी त्योहार, उत्साह और उमंग के साथ त्योहार मना पाएंगे। काम के साथ आराम के लिए भी समय निकालने की कोशि‍श करें। घर पर कोई मरीज है, तो उनके लिए दवा तैयार रखें। आप स्वस्थ रहेंगे तो पुरे परिवार का ध्यान रख पायेंगे।

ध्वनि प्रदूषण का भी ध्यान रखे : Take care of noise pollution

Deepawali  पर और उसके पहले से ही हर तरफ पटाखों की गू्ंज सुनाई देती है और हर तरफ शोर होता है। दिवाली के पहले से शुरू होकर सप्ताह भर बाद तक पटाखों का दौर चलता है। चरों तरह बहुत अधिक मात्रा में ध्वनि प्रदूषण होता है। यह आपके कान की संवेदनशीलता को तो प्रभावित करता ही है। इतना ही नहीं यह शोर आपको चिड़चिड़ा और मानसिक रोगी भी बना सकता है। यह सिरदर्द का कारण भी बनता है। इसलिए इस बात का ध्यान रखें की ना तो खुद ज्यादा ध्वनि प्रदूषण करना है और अगर हो रहा है तो इसके लिए आपको पहले से ही सावधान रहना जरूरी है।

बच्चों का ध्यान जरूर रखें : Take care of the kids

  • त्योहारी मौसम में बच्चों का विशेष ख्याल रखने की जरूरत होती है।
  • फिर चाहे वह पटाखे या फुलझड़ी जलाते वक्त हो या खाने पीने के मामले में।
  • कई बार इस समय आप काम में ज्यादा व्यस्त होते हैं
  • और बच्चों पर उतना ध्यान नहीं दे पाते।
  • ऐसे में बच्चों से हुई असावधानी से बड़ी दर्घटना होने की संभावना अधिक रहती है।
  • साथ में खानपान से उनकी सेहत प्रभावित हो सकती है।
  • ध्यान रखें की घर के काम के प्रति आपकी जितनी जिम्मेदारी उतनी ही बच्चों के प्रति भी है।
  • बच्चों पर हर समय ध्यान जरूर रखें।

तो दोस्तों इस पोस्ट में आपने जाना की दिवाली के त्यौहार पर हमें क्या क्या सावधानी (Take on the festival of Diwali) बरतने की जरूरत है। हमारी ये छोटी सी कोशिश आपको कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताना। आपको अगर ये पोस्ट पसंद आयी हो तो इसको अपने परिवार और मित्रो को सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर अवश्य करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.