Motherboard क्या है और इसका क्या काम होता है

Motherboard एक कंप्यूटर में लगने वाला कॉम्पोनेन्ट है या फिर यू कहे की पूरा कंप्यूटर मदर बोर्ड पर ही चलता है। इसमें बहुत सारे अलग अलग कॉम्पोनेन्ट लगे होते है। ये कंप्यूटर की रीड की तरह काम करता है। ये कंप्यूटर के सभी पार्ट आपस में जोड़ता है।

मदर बोर्ड कंप्यूटर के सभी पार्ट को जोड़कर उनके बीच पावर सप्लाई और अन्य कार्य करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसका कार्य सभी पार्ट को जोड़ कर कम्युनिकेशन बनाना और पावर सप्लाई देना होता है।

लेकिन आज कल अलग अलग तरह के और अपग्रेडेड मदर बोर्ड आ गए है। इसमें काफी अच्छे फ्यूचर जोड़ दिए गए है। जिससे कंप्यूटर को अपग्रेड करने में आसानी होती है और कंप्यूटर को यूजर अपने हिसाब से बनवा सकता है। इस पोस्ट में मदर बोर्ड के सभी कॉम्पोनेन्ट के बारे में जानेंगे।

Motherboard क्या है और इसका क्या काम होता है .

Motherboard

मदर बोर्ड कंप्यूटर में लगने वाला एक बोर्ड होता है जिसमे कंप्यूटर के सभी पार्ट कनेक्ट होते है। और मदर बोर्ड से ही इन सबको पावर सप्लाई और कमांड मिलती है। कंप्यूटर में यूजर जब भी कोई इनपुट देता है तो वो इनपुट सबसे पहले मदर बोर्ड में लगे प्रोसेसर में आती है और फिर मदर बोर्ड की जरिये सभी कॉम्पोनेन्ट उस इनपुट के तहत काम करने लगते है।

और यूजर को आउट पुट प्रदान करते है। मदर बोर्ड अलग अलग प्रोसेसर और रेम के हिसाब से आते है। कंप्यूटर के इनके हिसाब से अपग्रेड किया जा सकता है। यूजर अपने बजट के हिसाब से कंप्यूटर को बनवा सकता है।

मदर बोर्ड के साथ रेम , हार्ड डिस्क , ग्राफ़िक कार्ड , सीडी ड्राइव और अन्य कॉम्पोनेन्ट जुड़े है। और मदर बोर्ड इन सबको इनके हिसाब से पावर देता है ताकि कंप्यूटर सही तरीके से चल सके।

मदर बोर्ड के कॉम्पोनेन्ट – Part of motherboardMotherboard

Motherboad एक कॉम्पोनेन्ट हब है और कंप्यूटर की रीड की हड्डी की तरह काम करता है। जैसे हमारी रीड की हड्डी पर हमारा पूरा शरीर काम करता है वैसे ही कंप्यूटर का पूरा सिस्टम मदर बोर्ड में जुड़ा हुआ होता है। इस पर रेम , सीडी ड्राइव, हार्ड ड्राइव इनस्टॉल होते है।

स्लॉट Motherboard slot

Computer Motherboard में बहुत सारे अलग अलग स्लॉट होते है जिसमे अलग अलग डिवाइस कनेक्ट होती है जैसे हार्ड डिस्क स्लॉट , RAM स्लॉट, पावर सप्लाई स्लॉट , प्रॉसेसर स्लॉट , ग्राफ़िक कार्ड स्लॉट , और भी अलग अलग स्लॉट होते है जो कंप्यूटर को अपग्रेड करते समय काम आते है।

पावर सप्लाई Power supply system

Power supply

Motherboard में पावर सप्लाई सिस्टम अलग अलग कॉम्पोनेन्ट के लिए अलग अलग होता है। मदर बोर्ड की मदद से ही कंप्यूटर के सभी पार्ट में पावर सप्लाई की जाती है। डायरेक्ट पैनल से सप्लाई करने पर पूरा सिस्टम जल जायेगा। क्योकि हर पार्ट को अलग अलग वाट की सप्लाई की जरुरत होती है। जिसको मदर बोर्ड की मदद से कण्ट्रोल किया जाता है।

Communication system control – Data Flow

मदर बोर्ड एक कम्युनिकेटिव जंक्शन की तरह काम करता है। ये सुनिशित करता है। की सभी कॉम्पोनेन्ट सही से काम करे और एक साथ काम करे। मदर बोर्ड पुरे सिस्टम का ट्रैफिक कण्ट्रोल करता है। और हर पार्ट पर नजर रखता है।

 

BIOS system (Basic Input/output System)

BIOS

Computer को स्टार्ट करने पर सबसे पहले Motherboard अपना कार्य शुरू करता है। और मदर बोर्ड में (BIOS)बेसिक इनपुट आउटपुट सिस्टम होता है। जो कंप्यूटर को स्टार्ट करने या (Bootup) करने पर काम आता है। RAM को बेसिक इनपुट आउटपुट (BIOS) की जरुरत होती है। और इसी से पता चलता है की कंप्यूटर सही से काम कर रहा है या नहीं। अगर मदर बोर्ड काम नहीं करता तो कंप्यूटर कभी स्टार्ट नहीं हो पायेगा।

अच्छा मदर बोर्ड कैसे चुने how choose best mother board

Motherboard कंप्यूटर को ऑपरेट करने में काफी महत्पूर्ण भूमिका निभाता है। लेकिन अकेला मदर बोर्ड किसी काम का नहीं है। मदर बोर्ड में जो माइक्रो प्रोसेसर लगा होता है। वही Computer का दिल होता है और Motherboard का काम उसको सही ढंग से होल्ड करके रखना कार्य करवाना होता है मदर बोर्ड का शेप और लेआउट को ही फॉर्म फेक्टर कहते है। और इसी से पता चलता है की मदर बोर्ड की डिज़ाइन कैसी होगी और मदर बोर्ड कितना पॉवरफुल बनेगा।

Processor

मदर बोर्ड का सबसे अहम् हिस्सा होता है प्रोसेसर इसी से कंप्यूटर की speed और software कौन कौन से काम करेंगे ये पता चलेगा।
मदर बार्ड में जहा Processor लगा होता है। उस Socket में बहुत सारी Pin होती है जो अलग अलग Processor के हिसाब से होती है। कौन सा प्रोसेसर लगेगा इसी से पता चलता है।

(Motherboard) Memory (RAM)

हर मदर बोर्ड में RAM को लगाने की अलग अलग कॅपॅसिटी होती है। अगर आपके पास कम केपेसिटी का मदर बोर्ड है तो आप उसमे एक जीबी से लेकर चार जीबी तक रेम इनस्टॉल कर सकते है। लेकिन अगर आपके पास हाई केपेसिटी का मदर बोर्ड है तो आप उसमे रेम अपग्रेड कर सकते है। ये डिपेंड करता है। की आप कौन सा प्रोसेसर का मदर बोर्ड इस्तेमाल कर रहे है और इसमें कितना रेम मेमोरी आप इनस्टॉल कर सकते है।

Motherboard  Chipset

MOTHEBOARD में चिप सेट डाटा मैनेजमेंट को कण्ट्रोल करता है। ये एक इलेक्ट्रॉनिक सर्किट का समूह होता है। जो प्रोसेसर और अन्य कॉम्पोनेन्ट के बीच डाटा ट्रांसफर कण्ट्रोल करता है। CHIPSET को इस तरीके से बनाया जाता है। की ये प्रोसेसर और COMPUTER के अन्य कॉम्पोनेन्ट के बीच के संचार को कण्ट्रोल कर सकता है। चिपसेट पर कंप्यूटर की परफॉरमेंस निर्भर करती है। इंटेल कंपनी मुख्य रूप से चिप सेट का निर्माण करती है । पहला चिपसेट इंटेल Chips and Technologies द्वारा विकसित NEAT चिपसेट था जो 80286 सीपीयू के लिए बनाया गया था।

चिपसेट कंप्यूटर में मधयस्ता का काम करता है। इसी से कंप्यूटर के अंदर डाटा एक पार्ट से दूसरे पार्ट में ट्रांफर होता है। कंप्यूटर में इसके दो भाग होते है। पहले भाग को नोर्थब्रिज और दूसरे भाग को साउथ ब्रिज कहते है। कंप्यूटर के सभी पार्ट चिपसेट की मदद से कम्यूनिकेट करते है।

Motherboard BUS

  • कंप्यूटर की भाषा में बस फिजिकल कनेक्शन का एक ऐसा ग्रिड होता है।
  • जो कंप्यूटर में कम्युनिकेशन को पूरा करने के लिए सभी हार्डवेयर को एक दूसरे के साथ जोड़ता है।
  • बस में इनफार्मेशन बिट्स के रूप में मौजूद होती है।
  • प्रत्येक बार के डाटा ट्रांसफर को साइकल बुलाया जाता है.
  • इन रास्तों से सर्वाधिक Transfer speed प्राप्त की जा सकती है.
  • एक बस जिसकी विड्थ 16 Bits एवं फ्रीक्वेंसी 133 मेगाहर्ट्ज (MHz) हो
  • उसकी ट्रांसफर स्पीड होगी.

TYPE OF BUS IN MOTHERBOARD

  • Parallel buses
  • Serial Buses
  • Internal Buses
  • External buses
  • Address Bus
  • Memory Bus
  • Control Bus

SLOTS स्लॉट

  • मदर बोर्ड में स्लॉट एक्सटर्नल हार्डवेयर जोड़ने के लिए है।
  • हर मदर बोर्ड में अलग अलग कॅपॅसिटी के हिसाब से स्लॉट होते है।
  • आपको मदर बोर्ड खरीदना है
  • तो आप मदर बोर्ड में स्लॉट जरूर चेक कर लीजिये की कितना रेम स्लॉट है
  • ओर आप उसमे कितने जीबी तक रेम अपग्रेड कर सकते है।
  • इसके आलावा ग्राफ़िक कार्ड स्लॉट , अगर आप गेम खेलते है
  • कंप्यूटर में तो आपको मदर बोर्ड में ग्राफ़िक कार्ड स्लॉट भी देखना होगा
  • कितने जीबी का कार्ड आप उसमे लगा सकते है।
  • इसके आलावा और भी स्लॉट होते है
  • जैसे PCI स्लॉट्स, PCIe स्लॉट्स, PCI-X स्लॉट्स, AGP Slots, ISA Slots, EISA Slots, VESA Slots, RAM Slots,

हर स्लॉट में आप अलग केपेसिटी का हार्डवेयर इंसटाल कर सकते है। जो की निर्भर करता है आपका मदर बोर्ड का चिपसेट कितने बिट का है और प्रोसेसर कौन सा है RAM कितनी है। अगर इन सबको आप नहीं देखेंगे तो आपका कंप्यूटर बहुत ही स्लो चलेगा या फिर हार्डवेयर इनस्टॉल ही नहीं कर पाएंगे आप।

  • PCI Slots.
  • PCIe Slots.
  • PCI-X Slots.
  • AGP Slots.
  • ISA Slots.
  • EISA Slots.
  • VESA Slots.
  • RAM Slots.

इसके आलावा कंप्यूटर में और भी बहुत कुछ होता है जिसकी जानकारी अगर आपको नहीं है तो आप हमारी और पोस्ट में देख सकते है। हमने आपको जो जानकारी दी है उससे आपने क्या सीखा इसके बारे में हमें जरूर बताये कमेंट बॉक्स में हमें मैसेज कर सकते है।

READ MORE ARTICAL –

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *